Loan Eligibility: भारत में कोई भी लोन लेने के लिए आपके पास होनी चाहिए यह योग्यताएं

Loan Eligibility: भारत में कोई भी लोन लेने के लिए आपके पास होनी चाहिए यह योग्यताएं

लोन चाहे किसी भी कैटेगरी का हो उसे जारी करने के लिए लगभग सभी बैंक और वित्तीय कंपनियां निर्धारित योग्यता को मापति है. इसी के आधार पर तय होता है कि आवेदनकर्ता को लोन मिलेगा या नहीं.

दरअसल इन योग्यताओं के आधार पर बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियां (एनबीएफसी) इस बात को सत्यापित करती है कि लोन आवेदनकर्ता लोन को चुकाने में कितना सक्षम है.

तो चलिए जानते हैं आखिर…

वो कौनसी योग्यता शर्तें हैं जो लोन लेने के लिए होनी चाहिए?

भारत में कोई भी लोन लेने के लिए आपके पास निम्न सामान्य जरूरी योग्यताएं होनी चाहिए जिनमें शामिल है:

  • स्थिर रोज़गार
  • आमदनी
  • क्रेडिट स्कोर
  • उम्र
  • और नागरिकता

अब इनके बारे में थोड़ा डिटेल में समझते हैं

स्थिर रोज़गार

स्थिर रोज़गार से मतलब है आमदनी का जरिया, चाहे आप नौकरी करते हो या आपका खुदका कोई बिजनेस हो. वह स्थिर होना चाहिए. इससे ऋण दाता को यह समझने में आसानी होती है कि आपका रोजगार स्थिर है और आप इस रोजगार के जरिए लोन चुका सकते हो.

आमदनी

आमदनी के जरिए बैंकों और वित्तीय कंपनियों को यह पता चलता है कि आप कितना कमाते हैं. और इसी आधार पर आपको कितना लोन देना सही रहेगा. जिससे आपको लोन चुकाने में परेशानी ना हो. आज के समय ज्यादातर बैंक और एनबीएफसी ₹15,000 रुपए से ₹25,000 रुपए महीने की सैलरी पर लोन प्रदान कर देती है.

क्रेडिट स्कोर

लोन लेने में क्रेडिट स्कोर का भी एक महत्वपूर्ण योगदान होता है. 750 के आसपास क्रेडिट स्कोर एक बढ़िया स्कोर की श्रेणी में आता है. क्रेडिट स्कोर आपके पुराने लोन के लेनदेन, ईएमआई भुगतान, क्रेडिट कार्ड्स जैसी कई चीजों के आधार पर तय किया जाता है.

उम्र
लोन आवेदनकर्ता की उम्र भी लोन लेने में एक अहम भूमिका निभाती है. इसके जरिए बैंकों और वित्तीय संस्थानों को यह समझने में आसानी होती है कि आवेदनकर्ता एक व्यस्क व्यक्ति है. ज्यादातर मामलों में लोन प्राप्त करने के लिए सामान्य उम्र 21 वर्ष से 55 वर्ष के बीच है.

नागरिकता
दरअसल नागरिकता एक सिक्योरिटी के तौर पर काम करती है. भारत के अंदर अधिकतर बैंकों और वित्तीय संस्थानों से लोन प्राप्त करने के लिए आवेदनकर्ता एक भारतीय नागरिक होना चाहिए.

यह कुछ सामान्य और जरूरी योग्यताएं हैं. ऋण दाता सबसे पहले इन्हीं योग्यताओं पर नजर डालता है. हालांकि इन योग्यताओं का सिलसिला यहीं खत्म नहीं होता है. अलग-अलग ऋणों और ऋणदाताओं के आधार पर इनकी संख्या बढ़ सकती है.

Loan will not be available in India without these ability (image)
भारत में लोन लेने के लिए जरूरी योग्यताएं (फोटो: Pixabay)

ध्यान रहे: ऋणदाता आवश्यकता अनुसार ऋण प्रदान करने के लिए और भी योग्यताएं निर्धारित कर सकता है. यह पूरी तरह आपके द्वारा लिए जा रहे लोन और ऋणदाता पर निर्भर करता है. ऋणदाता की योग्यता शर्तें हर आवेदनकर्ता के लिए अलग – अलग हो सकती है.

लोन के लिए अपनी योग्यता में सुधार करने के कुछ तरीके

कुछ चीजों को ध्यान में रखकर आप अपनी योग्यता में सुधार कर सकते हो. जैसे कि:

क्रेडिट स्कोर कम ना होने दें
अपनी ईएमआई और क्रेडिट कार्ड बिलों को समय पर भरें. अपनी क्रेडिट लिमिट का 30% से ज्यादा उपयोग ना करें. नियमित रूप से अपने क्रेडिट स्कोर को चेक करते रहें. कुल मिलाकर 750 और इससे अधिक क्रेडिट स्कोर बनाए रखें.

ज्यादा लोन आवेदन करने से बचें
कई लोन आवेदन करने से आपके क्रेडिट स्कोर पर एक नकारात्मक प्रभाव पड़ता है. दरअसल कई लोन आवेदन करने से ऋणदाता द्वारा आपकी सिबिल रिपोर्ट भी मांगी जाती है. जिसका सीधा असर आपके क्रेडिट स्कोर पर पड़ता है. कम समय के अंतराल में कई लोन आवेदन करने से आपकी इमेज एक ऐसे आवेदक की बनती है जिसे हर हाल में लोन चाहिए इस स्थिति में ऋणदाता आपके लोन आवेदन को नामंजूर कर सकते हैं.

बैंकिंग व्यवहार अच्छा रखें
बैंकों में ट्रांजैक्शन करते रहे इससे आपकी एक वैल्यू बनेगी.

बार-बार नौकरी न बदलें
ऋणदाता आपकी योग्यता का मूल्यांकन करते समय आपके रोज़गार को देखता है कि आवेदक ने कहां और कितने समय तक नौकरी की है. और अगर ऐसे में आप बार-बार नौकरी बदलते हो तो ऋणदाता आपको लोन देने में संकोच कर सकते हैं.

लोन योग्यताओं से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

कौनसी बैंक कम सैलरी पर लोन देती है?

निम्न बैंक कम सैलरी पर लोन की सुविधा प्रदान करती हैं जिनमें शामिल हैं:
भारतीय स्टेट बैंक
केनरा बैंक
इंडियन ओवरसीज बैंक
एचडीएफसी बैंक
टाटा कैपिटल बैंक
आईडीबीआई बैंक
कोटक महिंद्रा बैंक
पंजाब नेशनल बैंक, आदि.

क्या ₹10,000 रुपए महीने की सैलरी पर लोन मिल सकता है?

हां, कई बैंक/ वित्तीय कंपनियां ₹10,000 रुपए महीने की सैलरी पर लोन की सुविधा प्रदान करती है.

सैलरी के आधार पर कितना लोन मिल सकता है?

लोन की राशि आमतौर पर आपके द्वारा लिए जा रहे लोन और बैंक/ कंपनियों पर निर्भर करती है. हर बैंक एनबीएफसी में इसका हिसाब अलग-अलग है.
यह कुछ अनुमानित आंकड़े:
₹10,000 रुपए से ₹25,000 रुपए की सैलरी पर कई बैंक और वित्तीय कंपनियां ₹20,00,00 रुपए तक का लोन दे सकती है.


Leave a Reply

Your email address will not be published.